मानसक वाय (परामश) ससं ाधन

एमपीसी फाउंडेशन द्वारा (MPC Foundation)

COVID -19 के दौरान, बहत सेलोग भावनामक प सेभावत होतेह, कुछ परेशान, उदास, अलग-थलग और यहांतक क गुसा हो सकतेह। हमारा मानसक वाय महवपणू हैयक यह हमारेवचार, यवहार और भावनाओंको भावत करता है। भावनामक प सेवथ होना वथ, सतं ुलत जीवन जीने के साथ-साथ सतं ोषजनक पारपरक सबं धं का अभन अगं है। इस कार, यद हम चनु ौतय का सामना करतेह, तो कसी अय यित सेबात करनेसेतनाव को दरू करनेममदद मल सकती है। मदद लेनेको हमारेवाय और भलाई और खशु ी को बढ़ानेऔर अपनी कमजोर का खलु ासा नहंकरनेके लए एक सकारामक कदम और सय तरके के प मदेखा जाना चाहए।

मदद कब लेनी है:

जब आपके पास वचार, भावनाएंया यवहार हजो नयं ण सेबाहर ह, खासकर जब वेआपके रत, आपके काम या आपक भलाई को भावत कर रहेह। कभी भी परेशान या उदास होनेपर मदद मांगनेमशमद ा महससू न कर।

जब आप नौकर या अपनेयजन क हान जसै ी चनु ौतय सेजझू रहेह। येमुदेआपके अपनेहो सकतेह, लेकन उन लोग को भी भावत कर सकतेहिजनक आप परवाह करतेह।

जब शराब या स का उपयोग आपके वाय, आपक भावनाओ,ं आपके रत, आपक नौकर या आपक दैनक िजमेदारय को परूा करनेक मता महतेप करता है।

जब आप मत होतेह, तो भावनाओंसेभरा होता हैऔर कठन वकप क तरह मदद करनेके लए एक देखभाल करनेवालेनप यित के िटकोण क आवयकता होती है।

जब आपको लगता हैक जीवन जीनेलायक नहं रह गया है, क आप नराश हऔर लाइन के अतं तक पहँच चकुे ह, और आप वतम ान के ददको महससू करनेके बजाय मर जाएंगे। इस तरह के सकं ट के बीच, आप जीवन-या-मौत के नणय लेनेके लए तयै ार नहं ह। मदद के लए पछू ना। COVID-19 के दौरान कैलगर म कुछ मानसक वाय (परामश) सेवाएंनीचेद गई ह: