महामार के दौरान चता ं और कैसेसामना कर

एमपीसी फाउंडेशन द्वारा (MPC Foundation)

ीमती चनै माचसेघर पर ह अटक हई हैऔर भावनामक और शाररक प सेअकेल रह गई है। अपनेदम पर रहतेहए, वह अपनेबच और नाती-पोत को देखनेमअसमथरह हऔर न ह समय क वतारत अवध के लए कोई अय सामािजक बातचीत क है। जसा ै क हमनेहाल ह मउसके साथ फोन पर बात क थी, उसनेउलेख कया था क वह चता ं के साथ over काँप रह थी ’और जब वह जानती थी क उसक बेट अपताल मभत हैऔर सजर के लए नधारत है। वह चता ं और बेबसी क भावना से अभभतू हो गई यक वह अपनी बेट के साथ नहंजा पा रह थी और न ह उसक मदद कर पा रह थी जसै ेवह सामाय प से करती है। उसके लए, पीड़ा असहनीय थी।

कनाडा सरकार के अनसार ु , "सामाय चता ं वकार या जीएडी वाले यित अयधक चता ं और वभन वषय, जीवन क घटनाओं या दैनक गतवधय के बारेमचता ं करतेह।" इसक कुछ सामाय वशषताओ े ंमशामल ह:

  • परानी ुचता ं

  • अतरंिजत चता ं और तनाव, तब भी जब चता ं और चता ं को भड़कानेके लए बहत कम या कुछ भी नहं है

  • आपदा क आशंका

  • वाय समयाओ, ं धन, पारवारक समयाओंया काम म कठनाइय के बारेमअयधक चता ं

  • आराम करनेमकठनाई

  • आसानी सेचकानेवाला

  • मिकल

ु सेयान दे

सोतेहए परेशानी

  • सोतेरहनेमपरेशानी


यद आप पातेहक आपको वभन घटनाओंया गतवधय के बारेमअयधक या अवातवक चता ं हैऔर यह कुछ महन तक लंबी अवध तक बनी रहती है, तो सबसेअछा मकाबला

ु करनेक

रणनीत एक पेशवर े सेबात करनी होगी। चता ं का इलाज दवा और मनोचकसा या दोन के साथ कया जा सकता है। दवा चता ं वकार को ठक नहंकरेगी लेकन लण को कम कर सकती है या समात कर सकती हैजबक यित मनोचकसा ात करता है। दवा चकसक वारा नधारत क जानी चाहए, आमतौर पर मनोचकसक, जो या तो खदु मनोचकसा कर सकतेहया समवत मनोचकसा दान करनेके लए मनोवानक ै , सामािजक कायकता या परामशदाता के साथ एक टम के प म काम कर सकतेह। चता ं वकार के लए इतमाल े क जानेवाल मख

ु दवाएंएंटडेसट , एंट चता ं दवाएंऔर बीटा लॉकसह। उचत उपचार के साथ, चता ं वकार वालेकई लोग सामाय जीवन को परा ू कर सकतेह (एनआईएमएच, 2016)। मनोचकसा मएक शत मानसक वाय पेशवर े के साथ बात करना शामल है, जसै ेक मनोचकसक, मनोवानक ै , सामािजक कायकता या परामशदाता । लय यह जानना हैक या हो रहा है, या एक चता ं वकार के लए योगदान देरहा हैया इसके लण सेनपटनेके लए रणनीतय क खोज कर रहा है।

पारंपरक उपचार के अलावा, ऐसेएककत तरके भी हजो चता ं वकार सेजड़ुेशाररक और मनोवानक ै लण को कम कर सकतेहजसै ेक वाम तकनीक और नदशत कपना, योग,

यान, वास यायाम, शाररक गतवध, संगीत और आहार परवतन। इन वषय और अधक आगामी लेख मपता लगाया जाएगा।